ग्राम प्रधान, BDC & जिला पंचायत की सैलरी कितनी होती है?

ग्राम पंचायत चुनाव में मुख्य तीन लोग चुने जाते है ग्राम प्रधान, BDC और जिला पंचायत सदस्य यह जितने के बाद कैसे रहते है ये आप सभी जानते है. लेकिन क्या आप ग्राम प्रधान, BDC और जिला पंचायत सदस्य की सैलरी जानते है? अगर नहीं जानते तो हम बताएँगे की ग्राम प्रधान की सैलरी कितनी होती है? BDC को सैलरी कितना मिलता है? और आखिर में जिला पंचायत सदस्य को कितना वेतन मिलता है?

ग्राम प्रधान का वेतन कितना होता है?

ग्राम पंचायत का चुनाव तीन स्तरीय होता है और उसका पहला उम्मीदवार ग्राम प्रधान होता है और ग्राम प्रधान का वेतन 3500 रुपये प्रति महीने मिलता है. मानदेय के साथ-साथ ग्राम प्रधान को कुछ भत्ते भी मिलते है गांव के सभी काम सुचारु रूप कर सके.

गांव में होने वाले सभी विकास के लिए सरकार ग्राम प्रधान को हर एक बजट मुहयिया कराती है और अगर विकास निधि से ग्राम प्रधान पैसे कमाने की कोशिश करते है तो यह गैर-कानूनी है.

क्षेत्र पंचायत (BDC) का वेतन कितना होता है?

क्षेत्र पंचायत सदस्य जिसे हम आप भाषा में BDC के नाम जानते है इसका भी चुनाव ग्राम प्रधान के साथ ही होता है. आम नागरिक अपने मत का इस्तेमाल क्षेत्र पंचायत सदस्य चुनने के लिए भी करते है. BDC में जो प्रत्याशी जीतता है वह आगे चलकर ब्लॉक प्रमुख चुनने के लिए वोट डालता है. क्षेत्र पंचायत सदस्यों को कोई मान देय नहीं मिलता है लेकिन सरकार BDC हर महीने 500 रुपये हर महीने भत्ता देती है.

जिला पंचायत सदस्य का वेतन कितना होता है?

ग्राम प्रधान के साथ एक और मुख्य चुनाव होता है जिला पंचायत सदस्य का और इसके लिए भी आम जनता वोट करती है और के सही उम्मीदवार का चुनाव करती है. जो लोग जिला पंचायत सदस्य का चुनाव जीतते है वो जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए चुनाव लड़ सकते है और इनका राजनीति में बहुत पकड़ होता है.

जिला पंचायत चुनाव अध्यक्ष को सरकार हर महीने 14000 रुपये मानदेय देती है और सदस्य को किसी भी तरीके का मानदेय नहीं मिलता है बस बैठक करने के लिए 1000 रुपये भत्ते के रूप में मिलता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *